सुबह जल्दी जागना होगा अब आसान, सिर्फ उठायें ये 3 कदम!

इंटरनेट पर बहुत से ब्लॉग, वीडियो और पुस्तकें उपलब्ध हैं जो आपको सुबह जल्दी जागना सिखाती हैं, लेकिन आज मैं आपको व्यावहारिक 3 कदम का समाधान बता रहा हूँ, जो आपको आपकी समस्या को समझने में मदद करेगा और आपको जल्दी उठने के लिए कार्य योजना बनाने में मदद करेगा।

“जल्दी सोना और जल्दी जागना एक आदमी को स्वस्थ, अमीर और बुद्धिमान बनाता है। – बेंजामिन फ्रान्कलिन”

आप इस रेस में अकेले नहीं हैं, बहुत सारे लोग सुबह जल्दी जागने की उम्मीद रखते हैं लेकिन वो कई कारणों की वजह से ऐसा नहीं कर पाते| समाधान जानने के लिए पढ़ना जारी रखें।

क्या आप जानते हैं? ये आपकी अपने आलस्य और कमजोर इच्छाशक्ति के साथ लड़ाई है, अगर आप जल्दी जागना चाहते हैं तो आपको इससे जीतना होगा, आइए पता करें कि आप जल्दी उठने के अद्भुत लाभों को पाने के लिए यह कैसे करें|

सुबह जल्दी जागने के लिए उठायें ये 3 आसन कदम:

जल्दी उठने की आदत आपको खुश, स्वस्थ, सफल और ऊर्जा से भरा बनाती है। आइए आगे बढ़ें और जानें, सुबह जल्दी कैसे जगें?

सुबह जल्दी उठने के लिए, में यहां 3 कदम की कार्य योजना बता रहा हूँ।

1. समस्याओं का पता लगाएं कि आप जल्दी उठने में सक्षम क्यों नहीं हैं?

कहते हैं, समस्या का पता चलना ही इसके हल करने की शुरुआत है। सबसे पहले मैं सुबह जल्दी नहीं उठने के पीछे संभावित कारण बताऊंगा और फिर आप उनमे से जो आपका कारण है चुन लें|

उन कारणों की सूची जो आपको जल्दी उठने नहीं देते हैं:
• जीवन में उत्साह की कमी
• देर से सोने की आदत
• अपर्याप्त नींद
• सोने और जागना निश्चित नहीं
• इच्छाशक्ति की कमी
• आलस्य
• निष्क्रिय जीवनशैली
• बिल्कुल व्यायाम नहीं
• सोने के माहौल में समस्याएं (कमरे का तापमान, कमरे में प्रकाश, सोने की सतह आदि)
• खाने की गलत आदतें
• देर रात तक काम करना

यहां मैंने देर से जागने के लिए ज़िम्मेदार कुछ कारण सूचीबद्ध किए हैं। मैं अब समझाऊंगा, आप इन कारणों को कैसे दूर कर सकते हैं? जिससे आप सुबह आसानी से जल्दी उठ पाएं।

आइए सबसे महत्वपूर्ण विषय, एक्शन प्लान (कार्य योजना) को जानते हैं।

2. जल्दी उठने के लिए प्रभावी कार्य योजना, जो लगभग हर किसी के लिए काम करती है:

मैं इस कार्य योजना को, आपके दिमाग में उठे सामान्य प्रश्नों (सुबह जागने की प्रक्रिया को कठिन बनाने से जुड़े प्रश्न) के उत्तरों की मदद से बहुत सरल और प्रभावी बनाने जा रहा हूं|

प्रश्न: 1 जल्दी उठने के लिए मुझे क्या करना चाहिए?

जीवन में एक लक्ष्य बनाएं और जागने और सोने का समय निर्धारित करें:
लक्ष्य का होना, आपको जीवन में आगे बढ़ने के लिए बहुत महत्वपूर्ण है, लेकिन लक्ष्य का उद्देश्य भी बहुत महत्वपूर्ण है। तो, दो बार सोचें कि आप जल्दी उठना क्यों चाहते हैं? और इसके पीछे क्या कारण है?

जीवन में एक लक्ष्य के बिना आप जल्दी उठने में सक्षम नहीं होंगे, उदाहरण के लिए, ये लक्ष्य सिर्फ खुश और स्वस्थ रहना भी हो सकता है।

जीवन में उत्साह और ऊर्जा रखने के लिए जीवन का लक्ष्य बनाएं और अपने कार्यालय, स्कूल या दैनिक आवश्यकता के अनुसार अपना जागने का समय निर्धारित (fix) करें। यह सुबह 4 बजे, 5 बजे और 6 बजे हो सकता है, लेकिन मेरा सुझाव है कि आप सूर्योदय से पहले जाग जाएं (लगभग 5-30AM से 6 बजे तक)।

अपनी जरूरतों के हिसाब से जागने और सोने का समय निर्धारित करें और इसे काल्पनिक न रखें। आपको अपनी जागने-सोने की दिनचर्या (शेड्यूल) सेट करते समय अपने काम, व्यायाम, परिवार, नाश्ते और भोजन, सामाजिक जीवन, दैनिक काम और अपनी प्राथमिकताओं का ध्यान रखना चाहिए।

मेरा सुझाव है कि आप सोने और जागने के बीच का समय अंतराल 7-9 घंटे रखें। जागने का समय वास्तविकता के साथ चुनें और धीरे-धीरे इसे 15-15 मिनट प्रति दिन घटाएं और अपने लक्ष्य तक पहुंचें।

हल्का व्यायाम करें या रोजाना 6000 – 9 000 कदम चलें:

Yogic Exercise -The Knee Fold
नाश्ते और स्नान से पहले 5-10 मिनट हल्का व्यायाम या स्ट्रेचिंग करें। योग आसन का अभ्यास हमेशा एक अच्छा विकल्प होता है| आप वजन उठाने या घर पर सामान्य स्ट्रेचिंग का भी अभ्यास कर सकते हैं।

5-10 मिनट व्यायाम करने से आपके शरीर में रक्त संचार बढ़ेगा जिससे आप ऊर्जावान और आराम महसूस करेंगे और यह आपकी नींद के लिए अच्छा है। अच्छी नींद लेना सुबह आसानी से जागने में मदद करता है।

संतुलित और नियंत्रित नाश्ता और आहार खाएं:
आपका आहार न केवल शरीर के विकास में बल्कि आपकी नींद, इच्छाशक्ति और मनोदशा में भी एक बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। तो, चलो जानते हैं कि आपके लिए क्या खाना अच्छा है और आपको बेहतर नींद के लिए क्या नहीं खाना चाहिए।

Eat Healthy and Balanced Diet

आपको हर दिन नाश्ता लेने की ज़रूरत है और आपका आहार संतुलित और नियंत्रित होना चाहिए। संतुलित आहार से मतलब है कि आहार में प्रतिदिन 9 आवश्यक पोषक तत्व हों और नियंत्रित से मतलब है कि आपको अत्यधिक खाने की आदत से बचना चाहिए। आपको बस अपने 90% पेट को भोजन से भरने की जरूरत है और 10% हवा के लिए खाली रहना चाहिए।

जंक फूड (फास्टफूड) और अस्वास्थ्यकर खाद्य पदार्थ खाने से बचें, ये न केवल आपके शरीर के लिए हानिकारक हैं बल्कि आपके दिमाग के लिए भी हानिकारक हैं और जिससे तनाव होता है।

avoid processed foods

सोने से पहले बहुत ज्यादा ना खाएं और रात में कैफीन युक्त पेय पीने से बचें।

अच्छे खाने की आदतें आपको एकाग्रचित(फोकस्ड) बनाती हैं जोकि आपको सुबह जल्दी जागने में मदद करती है।

सक्रिय जीवन शैली जीयें:
सुबह जल्दी जागने के लिए एक सक्रिय जीवनशैली बहुत महत्वपूर्ण है। सक्रिय जीवनशैली आपको रात तक थका देती है और जिससे आपको जल्दी और गहरी नींद आती है, और यह जागने की प्रक्रिया को आसान बनाता है।

जल्दी उठने के लाभों के बारे में सोचें:
सुबह जल्दी उठने के बहुत सारे फायदे हैं, लगभग सभी सफल लोग खुश, ऊर्जावान, स्वस्थ, उत्पादक और स्मार्ट रहने के लिए जल्दी उठते हैं।

बेहतर नींद के लिए अपना सोने का वातावरण (sleep environment) बदलें:

quality-sleep
यदि आपने रात में बेहतर नींद ली है तो आप अपनी अलार्म घड़ी के तुरंत बाद जाग जाएंगे। आपके सोने वाले कमरे में अँधेरा होना चाहिए क्योंकि अँधेरे में हमारे शरीर में नींद हार्मोन मेलाटोनिन बनता है, जो बेहतर नींद के लिए जिम्मेदार होता है।

आप अपने कमरे के पर्दे को आधा खोल के सोयें ताकि आप सुबह की रोशनी देख सकें, रोशनी से शरीर एड्रेनालाईन हार्मोन के उत्पादन को बढ़ाकर मेलाटोनिन हार्मोन का उत्पादन बंद कर देता है। शरीर की प्रतिक्रियाओं के लिए एड्रेनालाईन हार्मोन की आवश्यकता होती है और यह आपको जल्दी उठने में मदद करता है।

अलार्म घड़ी बिस्तर से दूर रखो:
अधिकांश सुबह जल्दी जागने वाले इसे आजमाते हैं और यह लगभग हर समय और हर किसी के लिए काम करता है। यदि आप वास्तव में जल्दी उठना चाहते हैं तो यह तकनीक आपको आलस्य से उबरने का समय देती है।

प्रश्न: 2 क्या करना है, अगर आपको देर से सोने की आदत है और देर रात तक काम करते हैं?

हो सकता है आपन विद्यार्थी हैं और रात में देर से सोते हैं, इस आदत से बचें और रात में जल्दी सोने के लिए 15-15 मिनट कर के सोने के समय को कम करें। रात में देर से सोना आपको आलसी और तनावपूर्ण बना देगा।

wake-up-early-for-stay-ahead

यदि आप अब तक देर रात तक काम करते हैं तो आपको सुबह जल्दी जग कर अपना काम पूरा करना चाहिए। सुबह आपकी गति बढ़ जाती है जिससे आपकी उत्पादकता में वृद्धि हो जाती है। शुरुआत में मुश्किल हो सकती है लेकिन सफल लोग सुबह में अपना महत्वपूर्ण कार्य पूरा करते हैं।

प्रश्न: 3 सोने से पहले क्या सोचें और क्या करें?

आपको सिर्फ 2 चीजें सोचने की ज़रूरत है, पहला, आपका दिन कितना सुंदर या संतोषजनक था? और दूसरा, आपका कल का लक्ष्य क्या है? यह आपको प्रेरित बनाएगा और आप निश्चित रूप से जल्दी उठने में सक्षम होंगे। यदि आपका दिन अच्छा नहीं था तो बस सोचें कि कल आज से बेहतर होगा।

उसके बाद सोचना बंद कर के अपने शरीर को ढीला करने की कोशिश करें, यह आपकी चेतना को बढ़ाता है और आपको आराम देता है। अधिकतर समस्याएं हमारी अत्यधिक सोचने की आदत से शुरू होती हैं इसलिए इसे रोकें और सोने की कोशिश करें, धीरे-धीरे आप इसे अपनालेंगे और यह हमेशा काम करता है।

प्रश्न: 4 जब सुबह आपकी अलार्म घड़ी बजे तो क्या सोचें और क्या करें?

कहते हैं, जागो प्रेरित हो कर और सो जाओ सन्तुष्ट हो कर। आप जागने  के समय, जल्दी जागने के फायदे, अपने लक्ष्य और सफलता के बारे में सोचें। इसमें अधिकतम 4-5 सेकंड लगेंगे और इस दोरान शायद आप अभी भी नींद महसूस कर रहे हों।

यही वह समय है जब आपको सुनहरी धूप को पाने के लिए अपने आलस्य से लड़ने की ज़रूरत है। अब अपनी अलार्म घड़ी को स्नूज़(snooze) ना करें। बिस्तर पर एक-दो आरामदायक अंगड़ाई लो।

बिना समय बर्बाद किए तुरंत उठो और हर दिन भगवान से धन्यवाद कहो, फिर एक या दो गिलास पानी पीएं और थोड़ी देर टहलने के लिए निकल जाएं।

मुझे नहीं लगता कि यह उतना आसान है जितना आप सोचते हैं लेकिन मेरा विश्वास है की तीसरा कदम आपके लिए यह आसान और संभव बना देगा।

3. अपने व्यवहार का विश्लेषण करें: आपने क्या किया और आपको क्या करने की ज़रूरत है?

अच्छा कहा गया है, बेहतर कल और सफलता के लिए रात को सोने से पहले अपने दिन का विश्लेषण करें। आपको केवल 4 आम/साधारण चीजों के बारे में सोचना होगा और सोने से ठीक पहले इसे करना होगा।

ये 4 चीजें हैं, पहला, अपनी योजना को याद करें जो आपने आज के लिए बनाई थी, दूसरा, तुमने आज क्या किया? तीसरा, आपको किस समस्या का सामना करना पड़ा? और चोथा, कल आप उनसे कैसे निबटोगे?

ऐसा करके आप अपने सचेत दिमाग में लक्ष्य प्राप्त कर रहे हैं और यह बहुत शक्तिशाली है। यह हर रोज सोने से पहले करो, इसमें 1-2 मिनट लगते हैं।

निष्कर्ष:

यह 3-चरणीय प्रक्रिया हर किसी के लिए काम करती है और आपको सुबह जल्दी उठने के लिए इसका पालन करने की आवश्यकता होती है। मैंने इस ब्लॉग में जल्दी नहीं जागने के लिए सभी संभावित कारणों और उनके समाधानों को शामिल किया है। यदि आपको अपर्याप्त नींद की बीमारी/समस्या है तो आपको डॉक्टर से परामर्श करने की आवश्यकता है।

अचानक कुछ भी नहीं बदलेगा, आपको लगातार इस पर काम करने की ज़रूरत है। बहुत अच्छा कहा गया है, यदि आप अपनी किसी भी आदत को बदलना चाहते हैं तो आप 14 दिनों तक कोशिश करेंगे तो आप इसे सफलतापूर्वक बदल पाएंगे।

मैंने इस प्रक्रिया को खुद पर अजमाया है और मैं अब हर रोज सूर्योदय से पहले जागता हूं। यह मुझे ऊर्जा और सकारात्मकता से भर देता है।

मुझे आशा है कि आपको यह पोस्ट उपयोगी लगी होगी, इसलिए सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों के साथ शेयर/साझा करना न भूलें।

सुबह जल्दी उठने के लिए आप क्या करते हैं? आपको क्या लगता है कि यह आपके लिए काम करेगा या नहीं? यदि नहीं तो क्यों? नीचे कमेंट बॉक्स में अपनी मूल्यवान टिप्पणियां जरूर लिखें।

स्वस्थ रहें और आनंदित रहें।

Author: Ashu Pareek

Ashu Pareek is Blogger, Yoga Trainer and founder of Yoga Holism. He loves to help people to improve their daily life and fitness. He teaches how to get peace and happiness in life.

Share This Post!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *