कुंभ मेला – जानें, क्या खास है इस बार कुंभ 2019 में?

कुंभ हमेशा से ही दुनिया का सबसे बड़ा धार्मिक और आध्यात्मिक मेला रहा है, जिसने करोड़ों देशी और विदेशी लोगों का ध्यान अपनी ओर खींचा है|

आज इस ब्लॉग में हम जानेंगे ऐसा क्या खास है इस बार प्रयाग कुंभ 2019 में, जिसके लिए इसे डिजिटल कुंभ के नाम से भी जाना जा रहा है|

कुंभ मेला – दुनिया का सबसे बड़ा धार्मिक आयोजन

कुंभ 2019 से जुडी रोचक और दिलचस्प बातें जानने से पहले कुंभ और इससे जुडी कुछ जरूरी बातें जान लेते  हैं|

कुंभ या कुंभ मेला आस्था का एक व्यापक हिंदू तीर्थ है जिसमें लोग पवित्र नदी में स्नान करने के लिए इकट्ठा होते हैं। माना जाता है की समुद्र मंथन के समय अमृत की कुछ बूंदें इन नदियों में आ गिरी थी, जिससे कुंभ के समय इन नदियों में स्नान मात्र से सभी पाप धूल जाते हैं|

ये पवित्र नदियां हैं- हरिद्वार में गंगा, उज्जैन में क्षिप्रा, नासिक में गोदावरी और इलाहाबाद (प्रयागराज) का संगम जो गंगा, यमुना और सरस्वती के मिलने से बनता है, इसी लिए कुंभ इन्ही चार जगहों पर हर 12 साल में एक बार और हर 6 साल में एक बार अर्द्धकुंभ आयोजित किया जाता है|

वैसे तो कुंभ कितना पुराना है कोई नहीं जनता, प्रयाग कुंभ का लिखित इतिहास में जिक्र चौथी से छटी सदी में मिलता है, जब राजा हर्षवर्धन अपना सब कुछ दान कर देते हैं|

कहा जाता है, की हर इंसान को जीवन में दो बार कुंभ जरूर जाना चाहिए, एक बार अकेले और एक बार परिवार के साथ|

इतना तो कुंभ के बारे मैं हम सभी को एक भारतीय होने के नाते जानना जरूरी था, पर अब जानते हैं इस बार कुंभ में ऐसा क्या खास है जिसे आप जान के हैरान रह जाएंगे|

कुंभ मेला 2019 – जानें, क्या खास है इस बार कुंभ में?

एक एक करके प्रयाग कुंभ 2019 से जुड़ी 10 सबसे रोचक बातें जानते हैं|

Fact 1. 49 दिनों तक चलने वाले इस कुंभ में, लगभग 15 करोड़ लोगों के आने की संभावना है, जिसके लिए 10 करोड़ लोगों को मैसेज द्वारा आने का निमंत्रण दिया गया है|

Fact 2. दुनिया का सबसे बड़ा अस्थाई शहर बनाया गया है,  जिसकी लागत लगभग 4300 करोड़ आंकी जा रही है|

Fact 3. ये 15 जनवरी से 4  मार्च तक चलेगा जिसमे 6 शाही स्नान होंगे, जोकी 15, 21 जनवरी , 4,10,19 फरवरी और 4 मार्च को होंगे, जिनमे करोड़ों लोग अपने पाप धोयेंगे|

Fact 4. इसमें न सिर्फ करोड़ों भारतीय शामिल होंगे बल्कि 10 लाख विदेशी भी शामिल होंगे, ये अब तक का सबसे भव्य कुंभ मन जा रहा है|

Fact 5. इस बार कुंभ मेला 45 वर्ग किलोमीटर छेत्र में फैला है जबकि पहले ये 20 वर्ग किलोमीटर छेत्र में होता था|

Fact 6. इस बार मेले में 50 करोड़ लागत से 4 टेंट सिटीज बनाई गई हैं जिनमे लगभग 1 लाख कॉटेज हैं| जिनमे सभी सुविधओं से लेस कॉटेज भी हैं, जिनका एक दिन का किराया 12 हजार रुपये तक है|

फैक्ट 7. सुविधाओं की बात करें तो, इस बार कुंभ में 690 किलोमीटर लम्बी पीने के पानी की लाइन और 800 किलोमीटर लम्बी बिजली की सप्लाई बिछाई गई है| 25 हजार स्ट्रीट लाइट लगाई गई है जो इसे रात में भव्य बना देंगी|

श्रद्धलुओं की के लिए 600 रसोघर , 48 मिल्क बूथ 1.2 लाख बायो टॉयलेट तथा 5 लाख विहिकल पार्किंग की सुविधाएँ राखी गई हैं|

Fact 8. कुंभ 2019 को स्वच्छ, सुरछित और डिजिटल बनाने के लिए केंद्र और राज्य सरकारें दोनों ही प्रयासरत हैं|

इसमें 7 हजार सफाई कर्मी और 20 हजार पुलिस कर्मी तैनात किये गए हैं|

पहली बार 2 इंटीग्रेटेड कंट्रोल सेंटर और आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस सेंटर बनाये गए हैं जो की भीड़ और ट्रैफिक को देखेंगे|

प्रयाग कुंभ मैं 200 ATM और 4000 हॉटस्पॉट लगाए गए हैं जो इसे डिजिटल कुम्भ बनाते हैं|

Fact 9. यात्रियों के लिए 800 स्पेशल ट्रेंस चली गई हैं|

Fact 10. मेले छेत्र में 300 किलोमीटर रोड बनाई गई है|

Watch this video to know more about Kumbh 2019 amazing facts:

ये सभी चीज़ें प्रयाग कुंभ 2019 को खास, भव्य और दुनिया का सबसे बड़ा आयोजन बना देती हैं, और हमारे मन में कुंभ 2019 के लिए उत्सुकता पैदा करती हैं|

हम सभी को भारतीय संस्कृति और कुंभ पर नाज करना चाहिए और समय निकल कर कुंभ स्नान करना चाहिए|

में आशा करता हूँ आपको ये ब्लॉग पसंद आया होगा|

अगर आप कुंभ 2019 से जुड़े अपने अनुभव शेयर करना चाहते हो तो मुझे कमेंट में जरूर लिखें| स्वस्थ रहें और खुश रहें| धन्यवाद्!

Author: Ashu Pareek

Ashu Pareek is Blogger, Yoga Trainer and founder of Yoga Holism. He loves to help people to improve their daily life and fitness. He teaches how to get peace and happiness in life.
Share this Post if you found it Helpful!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *